Well being Ideas: मिड मील के दौरान नहीं करें ओवरईटिंग, बस इन टिप्स का रखें ध्यान

Home HEALTH Well being Ideas: मिड मील के दौरान नहीं करें ओवरईटिंग, बस इन टिप्स का रखें ध्यान
Well being Ideas: मिड मील के दौरान नहीं करें ओवरईटिंग, बस इन टिप्स का रखें ध्यान

हेल्दी रहने के लिए दिनभर में तीन मेन मील के अलावा दो मिड मील लेने की भी सलाह दी जाती है। यह आपके मेटाबॉलिज्म को बेहतर तरीके से काम करने में मदद करता है। साथ ही साथ, आपकी बॉडी का एनर्जी लेवल भी बना रहता है। हालांकि, यह देखने में आता है कि लोग अपने मिड मील्स लेते हुए अक्सर गड़बड़ कर बैठते हैं। वे अक्सर इस दौरान स्नैकिंग करते हैं और स्नैकिंग करते हुए ओवरईटिंग करते हैं। जिससे उनके हेल्थ गोल्स पूरे नहीं हो पाते हैं। तो चलिए आज इस लेख में हम आपको कुछ ऐसे ही छोटे-छोटे टिप्स के बारे में बता रहे हैं, जिन्हें अपनाकर आप मिड मील्स में ओवरईटिंग करने से बच सकते हैं-

मेन मील को ना करें स्किप

कई बार ऐसा होता है कि काम के चक्कर में हम अपना मेन मील जैसे लंच या ब्रेकफास्ट आदि स्किप कर देते हैं। ऐसे में जब हम मिड मील लेते हैं तो उस दौरान ओवरईटिंग करते हैं। इसलिए, हमेशा इस बात का ध्यान रखें कि आप अपना मील बिल्कुल भी स्किप ना करें।

समझदारी से चुनें ऑप्शन

मिड मील्स के दौरान आप क्या खा रहे हैं, यह भी बहुत अधिक मायने रखता है। कई बार हम मिड मील्स स्नैकिंग में लोग ऑयली या फ्राइड खाते हैं। ऐसे में अगर आप कम भी खाते हैं तो भी उनका कैलोरी काउंट काफी बढ़ जाता है। इसलिए, जब आप मिड मील्स ले रहे हैं तो आपको उसे समझदारी से चुनना चाहिए। कोशिश कीजिए कि आपके मिड मील्स में प्रोटीन व फाइबर पर्याप्त मात्रा में हो। ये आपको फुलर फील करवाते हैं और ओवरईटिंग से बचाते हैं।

रहें हाइड्रेटेड 

कभी-कभी ऐसा भी होता है कि हमारा शरीर प्यास को भूख समझ लेता है और ऐसे में हम मिड मील्स में ओवर ईटिंग कर लेते हैं। इसलिए, अपने वाटर इनटेक का खास ख्याल रखें। यह सुनिश्चित करने के लिए कि आप पर्याप्त रूप से हाइड्रेटेड हैं, अपने मिड मील से पहले एक गिलास पानी पियें।

अच्छी तरह चबाकर खाएं

यह भी एक तरीका है मिड मील के दौरान ओवरईटिंग से बचने का। अक्सर मिड मील्स में हम अपने पसंदीदा स्नैक लेते हैं और इसलिए उसे जल्दी-जल्दी खाते हैं। हालांकि, ऐसा करने से ओवरईटिंग करने की संभावना कई गुना बढ़ जाती है। बेहतर होगा कि आप अपने मिड मील को धीरे-धीरे चबाकर और उसका अच्छी तरह स्वाद लेकर खाएं। ऐसा करने से आपको यह समझ में आता है कि आपका पेट कब भर गया है, जिससे आप अधिक खाने से बच जाते हैं।

– मिताली जैन

डिस्क्लेमर: इस लेख के सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन सुझावों और जानकारी को किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर न लें। किसी भी बीमारी के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.