PM Modi पर मल्लिकार्जुन खड़गे का पलटवार, बोले- झूठ फैलाना ही मोदी की गारंटी

Home INDIA PM Modi पर मल्लिकार्जुन खड़गे का पलटवार, बोले- झूठ फैलाना ही मोदी की गारंटी
PM Modi पर मल्लिकार्जुन खड़गे का पलटवार, बोले- झूठ फैलाना ही मोदी की गारंटी

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर पलटवार किया है। मोदी ने आज राज्यसभा में अपने भाषण के दौरान खड़गे पर जबरदस्त तरीके से निशाना साधा था। उन्होंने पलटवार करते हुए कहा कि झूठ फैलाना ही ‘मोदी की गारंटी’ है। उन्होंने कहा कि NDA का मतलब ‘नो डेटा अवेलेबल’ है। उनके(भाजपा) पास कोई आंकड़े नहीं हैं। वे सच नहीं बोल सकते, वे झूठ बोलते रहते हैं। खड़गे ने कहा कि संविधान को नहीं माननेवाले, जिन्होंने दंडी मार्च और “भारत छोड़ो आंदोलन” में शामिल नहीं हुए वो लोग आज कांग्रेस को राष्ट्रभक्ति का ज्ञान दे रहे हैं। मोदी जी ने UPA सरकार पर अनगिनत झूठी बातें कहीं। 

इसके साथ ही खड़गे ने मोदी से कई सवाल भी पूछे हैं। खड़गे ने पूछा कि UPA के दौरान बेरोज़गारी दर 2.2% था, आपके दौरान 45 सालों में सबसे ज़्यादा क्यों है? UPA के 10 सालों में दौरान GDP विकास दर औसतम 8.13% रहा, आपके दौरान केवल 5.6% क्यों? उन्होंने कहा कि वर्ल्ड बैंक की माने तो 2011 में ही भारत विश्व की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन गई है। हमने 10 साल में 14 करोड़ लोगों को ग़रीबी से बहार निकला। इधर-उधर के भाषणों को काँट-छाँट कर भ्रम आप फैला रहें हैं, झूठ आप फ़ैला रहें हैं। जो Digital India की तरक्की भारत ने की है, उसकी Basis UPA ने Aadhaar- DBT-Financial institution Account के तहत कर दी थी।

मल्लिकार्जुन खड़गे ने आगे कहा कि 65 करोड़ AADHAAR हम 2014 तक दे चुके थे। DBT-PAHAL से सब्सिडी का काम शुरू हो गया था। स्वाभिमान योजना के तहत हम ग़रीबों के 33 करोड़ बैंक खाते भी खोल चुके थे। उन्होंने कहा कि मोदी जी PSUs के बारे में कुछ बोले। हम याद दिला दें कि आपकी “बेचो और लूटो” की नीति ने अप्रैल 2022 तक 147 PSUs को पूरा/आधा/या कुछ Privatise कर दिया है। सरकार में 30 लाख पद ख़ाली पड़े हैं, और उसमें SC, ST, OBC के पद सबसे ज़्यादा ख़ाली हैं। अकेले  5 मंत्रालयों – रेलवे, स्टील, नागर विमानन, रक्षा (बिना सैनिकों के) और पेट्रोलियम में करीब 3 लाख पद ख़ाली हैं।

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि एकलव्य स्कूलों की बात आपने की, पर ये नहीं बताया कि उनमें 70% शिक्षक Contract पर ही है। यह दिल दुखाने वाली बात है कि पिछले 10 वर्षों में हमारे निर्यात और आयात के बीच का अंतर तीन गुना बढ़ गया  है और इस तथ्य को जानते हुए भी सरकार इसे समस्या के रूप में स्वीकार नहीं करती और सुधार नहीं करती। मोदी जी, आपने अपने दोनों सदनों के भाषण में केवल कांग्रेस को कोसा। 10 सालों से शासन में होने के बावजूद अपने बारे में बात करने के बजाय सिर्फ़ कांग्रेस की आलोचना करते हैं। आज भी उन्होंने महँगाई, रोज़गार, आर्थिक समानता की कोई बात नहीं की? 

Leave a Reply

Your email address will not be published.